भारत सरकार व राज्य सरकार द्वारा चलाई जा रही जन कल्याणकारी योजनाओं को पात्र व्यक्तियों तक पहुंचाना हमारी प्राथमिकताःडी एम
February 6, 2020 • MOHD. IQBAL HASAN
शामली। जिलाधिकारी अखिलेश सिंह की अध्यक्षता में विकास कार्यों की समीक्षा बैठक कलक्ट्रेट सभागार में सम्पन्न हुई। 
           समीक्षा बैठक में उन्होंने संबंधित अधिकारियों को। निर्देशित करते हुए कहा कि भारत सरकार व राज्य सरकार द्वारा चलाई जा रही जनकल्याणकारी योजनाओं को पात्र व्यक्तियों को पहुंचाना हमारी प्राथमिकता है। उन्होंने कहा कि योजनाओं का सीधे पात्र लाभार्थियों को लाभ दिया जाए।उन्होंने कहा कि लापरवाही करने पर अधिकारी स्वयं जिम्मेदार होंगे। बैठक में अपनी विभागीय योजनाओं के बारे में जानकारी न दे पाने/ बिना तैयारी के बैठक में आने पर जिलाधिकारी ने जिला उद्यान विभाग के इंस्पेक्टर पर नाराजगी व्यक्त करते हुए फटकार लगाई। तथा आगे से बैठक में पूर्ण तैयारी से आने के निर्देश दिए।                                               जिलाधिकारी ने प्रदूषण विभाग के अधिकारी को जमकर फटकार लगाई उन्होंने कहा कि कृष्णा नदी में गंदे नाले का पानी जाता है जिस पर आप द्वारा कोई भी कार्यवाही नहीं की गई नहीं तो कोई सैंपलिंग की गई जिससे कृष्णा नदी काफी गंदी है। उन्होंने कहा कि पर्यावरण विभाग जल निगम आपस में समन्वय कर शहर के जितने भी गंदे नाले कृष्णा नदी में जाते हैं उसका वेरिफिकेशन कर एक हफ्ते के अंदर आख्या प्रस्तुत करें। इस अवसर पर जिलाधिकारी ने कहा कि कन्या सुमंगला योजना का अधिक से अधिक पात्र परिवारों को लाभ दिया जाए। जिला प्रोवेशन अधिकारी द्वारा अवगत कराया गया कि कन्या सुमंगला योजना का फॉर्म दिन में पोर्टल पर अपलोड नहीं हो पाता है जिस कारण जनपद में प्रगति धीमी है।                   .     जिलाधिकारी ने निर्देश दिए कि कन्या सुमंगला योजना का फॉर्म रात्रि में पोर्टल पर अपलोड किया जा सके।उन्होंने कहा कि मुख्यमंत्री जी की प्राथमिकताओं में से एक योजना है इसमें किसी भी प्रकार की लापरवाही क्षम्य नहीं की जाएगी। सामूहिक विवाह योजना के अंतर्गत अधिक से अधिक पात्र जोड़ो के चयन का कार्य प्राथमिकता के साथ किया जाय।उन्होंने कहा कि किसान सम्मान निधि के लाभार्थियों का 100% आधार सीडिंग पूर्ण कर लिया जाय। जिला कृषि अधिकारी।  द्वारा बताया गया कि जनपद में प्रधानमंत्री मंत्री किसान सम्मान निधि योजना में 118625 पात्र किसानों को प्रथम किस्त में 105220 तथा दूसरी क़िस्त में 98523 व तीसरी क़िस्त 91099 चौथी क़िस्त में 59658 धनराशि पात्र किसानों की दी गई। जिलाधिकारी ने कृषि अधिकारी को निर्देशित करते हुए कहा कि जनपद में प्रधानमंत्री किसान सम्मान निधि योजना के पात्र अभी छूटे हो उनको भी इस योजना में जोड़ा जाए।उन्होंने कहा कि नहरो की सिल्ट सफाई का कार्य समय से पूर्ण कर लिया जाय। उन्होंने कहा कि सभी निर्माण कार्य गुणवत्तापूर्ण व समयबद्ध ढंग से पूर्ण किया जाय ,निर्माण कार्यों की गुणवत्ता की थर्ड पार्टी से जांच कराई जाएगी। नगली, जमालपुर में वृद्ध गोशाला का निर्माण कार्य कराया जा रहा है।                  जिलाधिकारी के निर्देश पर निर्माण कार्य की जांच कराई गई जिसमें बेसिक कमियां पाई गई। जिलाधिकारी ने कार्यदाई संस्था को फटकार लगाते हुए कहा कि निर्माण कार्य किसी भी प्रकार की लापरवाही बर्दाश्त नहीं की जाएगी। उन्होंने कहा कि जिलाधिकारी आवास व नवीन कलेक्ट्रेट में तेजी से कार्य कराने हेतु कार्यदाई संस्थाओं को निर्देश दिए।सभी प्राचार्यों से इस आशय का प्रमाण पत्र लिया जाय।कृषको की खाद बीज की उपलब्धता सुनिश्चित की जाय, नकली खाद पर कार्यवाही की जाय। प्रधानमंत्री आवास योजना शहरी व ग्रामीण में जो किश्त अवमुक्त की जा रही है उसी के अनुसार भौतिक प्रगति प्राप्त की जाय।ओ0डी0ओ0पी0 योजना के अंतर्गत व्यवसायी को ऋण स्वीकृत कराया जाय ,इसमे लापरवाही न बरती जाए।          उन्होंने कहा कि बैंक लोन देने में आनाकानी करती है तो इस संबंध में शाखा प्रबंधकों को मेरी अध्यक्षता में एक बैठक करा ली जाए। उन्होंने सिंचाई विभाग को निर्देशित करते हुए कहा कि आप द्वारा कराए जा रहे कार्य को जनप्रतिनिधियों को भी बताया जाए। उन्होंने मुख्य पशु चिकित्सा अधिकारी को निर्देशित करते हुए कहा कि गौशाला में प्रधान द्वारा सहयोग नहीं किया जा रहा है ऐसे प्रधानों को चिन्हित किया जाए। उन्होंने कहा कि जो भी पशुओं को छोड़ेगा उसके विरुद्ध एफआईआर करने के निर्देश दिए। बैठक में जिलाधिकारी ने मुख्य चिकित्सा अधिकारी से निरीक्षण के दौरान अनुपस्थित डॉक्टरों एवं नियमित टीकाकरण व एंबुलेंस सेवाओं के संबंध में जानकारी प्राप्त की गई। जिसमें मुख्य चिकित्सा अधिकारी द्वारा बताया गया कि अनुपस्थित रहने वाले डॉक्टरों पर कार्यवाही की जा रही है एवं रोगी तक एंबुलेंस समय से पहुंच रही है इसके अतिरिक्त जिला अधिकारी ने जननी सुरक्षा योजना में भुगतान संस्थागत प्रसव एवं नियमित टीकाकरण की जानकारी प्राप्त की गई जिसमें मुख्य चिकित्सा अधिकारी ने बताया कि 97% नियमित टीकाकरण हो गया है इसके अतिरिक्त जिलाधिकारी ने मुख्य चिकित्सा अधिकारी को निर्देश दिए कि स्वास्थ विभाग की जितनी भी योजनाएं उनका समय से सभी को शत प्रतिशत लाभ दिया जाए।
           इस अवसर पर मुख्य विकास अधिकारी शंभू नाथ तिवारी, मुख्य चिकित्सा अधिकारी संजय भटनागर, डीएफओ संजय, परियोजना निदेशक ज्ञानेश्वर तिवारी,सहित अन्य जनपद स्तरीय अधिकारी मौजूद रहे।