दो माह से नही मिली तनख्वाह, खाने के भी लाले, हमे घर जाना है साहब!
May 2, 2020 • MOHD. IQBAL HASAN

:-औद्योगिक क्षेत्र कंडेला में फंसे हुए है पूर्वांचल व बिहार के 36 मजदूर

:-कोतवाली पहुंचकर पुलिस से लगाई घर पहुँचाने की गुहार


कैराना/शामली । देश में घोषित लॉकडाउन से मजदूरी पेशा लोगों के सामने बड़ी समस्या खड़ी हो गई है। कंडेला औद्योगिक क्षेत्र की एक सरिया फैक्ट्री में काम करने वाले 36 मजदूर यहां फंसकर रह गए है। श्रमिकों ने कोतवाली पहुंचकर दो माह से तनख्वाह न मिलने का आरोप लगाते हुए उन्हें घर पहुँचाने की गुहार लगाई है।   

     कंडेला इंडस्ट्रीज एरिया में काम करने वाले दर्जनों मजूदर शुक्रवार को कैराना कोतवाली पहुंचे और पुलिस के सामने अपना दुखड़ा सुनाया। मजदूरों ने बताया कि वह औद्योगिक क्षेत्र कंडेला में स्थित जय भारत स्टील फैक्ट्री में काम करते है। देश में लॉक डाउन की घोषणा होने के बाद से कंपनी में काम बन्द हो गया। इसके बाद वह यही पर फंसकर रह गए।      उन्होंने बताया कि उनमे 19 लोग यूपी के पूर्वांचल, 16 बिहार व एक पश्चिमी बंगाल से है। पिछले दो माह से उन्हें तनख्वाह नही मिली है। उनके पास में जो पैसा था, सब खर्च हो गया है। खाने के भी लाले पड़े हुए है। रेल, बसें सब बंद हैं, इसलिए वह अपने घर भी नहीं जा पा रहे हैं। 

   मजदूरों का कहना है वेतन न मिल पाने के कारण दो माह से वह अपने परिवार के पास पैसा भी नही भेज पा रहे है, जिससे परिजनों को भी भारी किल्लत से रूबरू होना पड़ रहा है। परिवार से दूर होने के कारण वह उनकी समस्याओं का भी कोई समाधान नही कर पा रहे है। कहा कि वह यहां पूरी तरह बेबस हो गए है और अपने घर जाना चाहते है। मजदूरों ने पुलिस प्रशासन से उन्हें घर भिजवाए जाने की व्यवस्था कराने की गुहार लगाई है। कैराना कोतवाल यशपाल धामा का कहना है कि मजदूरों के इंडस्ट्रीज एरिया में फंसे होने का मामला उनके संज्ञान में नही है।