जिला प्रभारी मंत्री की अध्यक्षता में जिला योजना समिति की बैठक हुई संपन्न
January 29, 2020 • MOHD. IQBAL HASAN
शामली जनपद के विकास के लिए 162.62 लाख रुपये की योजनाओं का किया अनुमोदन
शामली । जिला योजना समिति की बैठक बुधवार को कलेक्टेªट सभागार में जिला प्रभारी मंत्री इलेक्ट्रोनिक्स तथा सूचना प्रौद्योगिकी विभाग उत्तर प्रदेश श्री अजीत सिंह पाल जी की अध्यक्षता में बैठक का आयोजन किया गया है। बैठक में जनपद के विकास के लिए 162.62 लाख रूपये की योजनाओं का अनुमोदन किया। विभागों को आवंटित होने वाली धनराशि कृषि विभाग 24 लाख रूपये, गन्ना विभाग को 1060.76 लाख रूपये, पशु पालन को 129 लाख रूपये, दुग्ध विकास 107.49 लाख रूपये, सहकारिता को 369 लाख रूपये, वन विभाग को 1200 लाख रूपये, रोजगार कार्यक्रम को 605.61 लाख रूपये, पंचायती राज को 189.90 लाख रूपये, समुदायिक विकास को (ग्राम्य विकास) 48 लाख रूपये, निजी लघु सिंचाई को 323.66 लाख रूपये, राजकीय लघु सिंचाई को 29 लाख रूपये, अतिरिक्त ऊर्जा स्त्रोत को 31.30 लाख रूपये, खादी एवं ग्रामोद्योग को 0.50 लाख रूपये, सड़क एवं पुल ग्रामीण मार्गों का पुननिर्माण तथा नवीन ग्रामीण सड़क का निर्माण के लिए 4233.72 लाख रूपये, प्रभारी मंत्री द्वारा पी0डब्लू0डी0 के अधिकारी को निर्देश दिए गये की जनपद की कुछ सड़के खराब है उन्हें प्राथमिकता पर सही कराने के निर्देश दिए। पर्यावरण को 2 लाख रूपये, पर्यटन विभाग को 80 लाख रूपये, प्राथमिक शिक्षा को 942.40 लाख रूपये, माध्यमिक शिक्षा को 879 लाख रूपये, प्राविधिक शिक्षा को 90.94 लाख रूपये, प्रादेशिक विकास दल को 21.43 लाख रूपये, ऐलोपैथी को 1828 लाख रूपये, होम्योपैथी को 89.92 लाख रूपये, आयुर्वेद को 28 लाख रूपये, यूनानी को 7 लाख रूपये, ग्रामीण स्वच्छता को 14 लाख रूपये, पूल्ड आवास को 469.63 लाख रूपये, नगर निकास को 849.32 लाख रूपये, अनुसूचित जाति कल्याण को 159.70 लाख रूपये, पिछड़ी जाति कल्याण को 126.41 लाख रूपये, अल्पसंख्यक कल्याण को 95.66 लाख रूपये, समाज कल्याण-सामान्य जाति को 141 लाख रूपये, शिल्पकार प्रशिक्षण के लिए 270 लाख रूपये, समाज कल्याण विभाग को वृद्धा पेंशन, किसान पेंशन, राष्ट्रीय पारिवारिक लाभ योजना के लिए 1271.60 लाख रूपये, दिव्यांगजन सशक्तिकरण को 43 लाख रूपये, महिला कल्याण को 206.58 लाख रूपये, प्रभारी मंत्री ने सभी मदों की धनराशि का अनुमोदन किया। 
       प्रभारी मंत्री ने सभी अधिकारियों से कहा कि भारत सरकार व प्रदेश सरकार की जितनी भी जनकल्याणकारी योजनाएं चल रही है, या अन्य कोई और योजना आती है,उन सभी योजनाओं की जानकारी आवश्यक रूप से जनपद के जनप्रतिनिधियों को भी दी जाए। प्रभारी मंत्री ने कहा कि भारत सरकार व प्रदेश सरकार का एक ही सपना है की केंद्र सरकार व प्रदेश सरकार की जितनी भी योजनाएं संचालित की जा रही है उनसे हर गरीब तबके के लोगों का अधिक से अधिक उत्थान हो, प्रभारी मंत्री ने कहा की प्रदेश के विकास के लिए कार्य करें।इसके अतिरिक्त प्रभारी मंत्री ने मुख्य चिकित्सा अधिकारी को यह निर्देश दिए कि आयुष्मान भारत योजना में जिन्हें अभी कार्ड नहीं मिले हैं उनको कार्ड उपलब्ध कराया जाए और अधिक से अधिक पात्रों को इस योजना का लाभ दिया जाए। प्रभारी मंत्री द्वारा किसान सम्मान निधि में पात्र को अधिक से अधिक लाभ दिया जाने के निर्देश कृषि उप निदेशक को दिए। मंत्री द्वारा विद्युत विभाग के अधिकारियों को हिदायत देते हुए कहा कि अपने रवैए को बदलते यह कार्य करें अनावश्यक किसी को परेशान न किया जाए नियमानुसार ही कार्रवाई की जाए और जहां पर भी विद्युत से संबंधित समस्याएं है उनका समय से निराकरण किया जाए और जो क्षेत्र के मीटर रीडर मैन है उन पर सतर्कता बरती जाए। यदि इसमें किसी भी प्रकार की लापरवाही की जाती है तो आगे से कार्रवाई के तैयार रहें। प्रभारी मंत्री ने उपस्थित सभी जनप्रतिनिधि एवं अधिकारियों से कहा कि नागरिकता संशोधन अधिनियम के संबंध में जनमानस को अधिक से अधिक इस अधिनियम की जानकारी दी जाए और उन्हें बताया जाए कि भ्रमक अफवाह पर ध्यान ना दें क्योंकि अधिनियम नागरिकता देने का काम करता है न की नागरिकता लेने का इसकी जानकारी विशेष रूप से दी जाए। बैठक के अंत में जिलाधिकारी ने प्रभारी मंत्री को आश्वस्त करते हुए कहा कि आप के दिशा निर्देशानुसार जनपद में सभी कार्यों को प्रभावी ढंग से किया जाएगा। और जितनी भी योजनाएं हैं उन सभी योजनाओं का हर पात्र व्यक्ति को शत प्रतिशत रूप से दिया जाएगा। बेसिक शिक्षा विभाग द्वारा एक दिन पूर्व पाक कला रसोई प्रतियोगिता कराई गई थी। प्रभारी मंत्री जी द्वारा प्रतियोगिता में प्रथम, द्वितीय व तृतीय क्रम अनुसार 3500 रूपये, 2500 रूपये व 1500 रूपये पुरस्कार चैक वितरित किये।
      इस अवसर जिला पंचायत अध्यक्ष संतोष देवी, विधायक सदर तेजेन्द्र निर्वाल, एम0एल0सी0 विरेन्द्र सिंह, समाजसेवी प्रसन्न चैधरी, मुख्य विकास अधिकारी शम्भूनाथ तिवारी, अपर जिलाधिकारी अरविन्द कुमार सिंह, मुख्य चिकित्साधिकारी संजय भटनागर, परियोजना निदेशक ज्ञानेश्वर तिवारी, अर्थ एवं सांख्यिकी अधिकारी सुश्री लक्ष्मी देवी आदि अधिकारी उपस्थित रहे।