कैराना को मिला शव यात्रा वाहन, मुफ्त मिलेगी सेवा
October 20, 2019 • MOHD. IQBAL HASAN

शामली: नागरिकों की समस्याओं को देखते हुए नगरपालिका ने कैराना को शव यात्रा वाहन की सौगात दी है। अब मृतक के अंतिम संस्कार के लिए शव को श्मशान घाट तक ले जाने वाहन की निःशुल्क सेवा मिलेगी।

जिले के कैराना कस्बे की आबादी एक लाख से अधिक है। इसी को देखते हुए नगरपालिका परिषद कैराना की बोर्ड बैठक में पिछले दिनों शव यात्रा वाहन के लिए प्रस्ताव पारित हुआ था। चूंकि कैराना में मृतक के शव को अंतिम संस्कार हेतु श्मशान घाट यमुना घाट किनारे करीब पांच किलोमीटर की दूरी पर है, तो नगरवासी प्राइवेट वाहनों का सहारा लेते थे। चेयरमैन हाजी अनवर हसन के विशेष प्रयासों के चलते महाराष्ट्र राज्य के पुणे से शव यात्रा वाहन टाटा कंपनी द्वारा जनरल मैनेजर अरुण चौधरी की देखरेख में कैराना नगरपालिका में पहुंच गया। जहां नगरपालिका परिषद के कार्यालय अधीक्षक राकेश बाबू , जलकल लिपिक इनाम हसन, निर्माण लिपिक इरशाद अली, तौसीफ सिद्दकी, चौधरी रियासत, मुकेश कुमार जैन व विपुल कुमार जैन आदि ने उनका स्वागत किया। तत्पश्चात वाहन की चाबी को पालिका के अधिकारियों की  सुपुर्दगी में दे दिया गया।

  • सभासदों की भी रही भूमिका

प्रमुख समाजसेवी व सभासद शगुन मित्तल एडवोकेट सहित कुछ सभासदों ने बोर्ड बैठक के दौरान अंतिम शव यात्रा के लिए प्रस्ताव रखा था, जिसको हरी झंडी दे दी गई थी। इसके बाद नगरपालिका के बजट से शव यात्रा वाहन कैराना पहुंच गया है।

  • बोले चेयरमैन, जनता की सेवा ही मकसद

चेयरमैन हाजी अनवर हसन ने राष्ट्रीय जंग टाइम्स को बताया कि अंतिम यात्रा वाहन की सेवा नगरवासियों को मुफ्त दी जाएगी। उन्होंने कहा कि  जनता ने ही मुझे चुना था और मैं जनता की सेवा के लिए हर समय तत्पर हूं। उन्होंने कहा कि मेरा मुख्य मकसद जनता की सेवा करना है।