कैराना में मिला कोरोना का पॉजीटिव, स्वास्थ्य विभाग में हड़कंप
March 24, 2020 • MOHD. IQBAL HASAN
 
 
- दुबई से लौटा था युवक, पूरे परिवार और किराएदार को आइसोलेशन वार्ड में कराया भर्ती
 
कैराना। जनपद शामली के कैराना में युवक को कोराना की पुष्टि हुई है। हाल ही में युवक दुबई से लौटा था। यह सहारनपुर मंडल में पहला मरीज बताया गया है। युवक को कोरोना पाए जाने पर स्वास्थ्य विभाग और प्रशासन में हड़कंप मच गया है। स्वास्थ्य विभाग की ओर से युवक को पत्नी व तीन बच्चों के अलावा मकान में रहने वाली किराएदार महिला एवं उसकी पुत्री को आइसोलेशन वार्ड में भर्ती कराया गया है। उनकी भी जांच की जा रही है। वहीं, एहतियात के तौर पर युवक से मिलने-जुलने वाले अन्य लोगों का खाका भी स्वास्थ्य विभाग जुटा रहा है।
   कैराना कस्बे के मोहल्ला जेर अंसारियान निवासी 33 वर्षीय शाहनवाज 15 मार्च को दुबई से घर लौटा था। स्वास्थ्य विभाग की ओर से एहतियात के तौर पर 20 मार्च को युवक का सैंपल लेकर जांच के लिए भेजा था। जांच रिपोर्ट में युवक कोरोना वायरस पॉजीटिव निकलने पर जिले के स्वास्थ्य विभाग में हड़कंप मच गया। मंगलवार को सीएमओ शामली डा. संजय भटनागर सामुदायिक स्वास्थ्य केंद्र कैराना पर पहुंचे। जहां उनके द्वारा विशेष टीम तैयार की गई। इसके बाद टीम को युवक के घर पर भेजा गया। मौके पर सीएमओ के अलावा एसडीएम कैराना देवेंद्र सिंह, सीओ प्रदीप सिंह, तहसीलदार प्रवीण कुमार, कोतवाली प्रभारी यशपाल धामा व ईओ कैराना हेमराज सिंह भी पहुंच गए। स्वास्थ्य विभाग की टीम ने युवक, उसकी पत्नी व तीन बच्चों के अलावा इसी मकान में किराए पर रहने वाली महिला एवं उसकी पुत्री को शामली सीएचसी में आइसोलेशन वार्ड में शिफ्ट कर दिया है। इस दौरान उन्हें गलब्स और मास्क आदि के साथ सुरक्षा में ले जाया गया। युवक को आइसोलेशन वार्ड में भर्ती करते हुए उसके परिवार के लोगों की भी जांच की जा रही है।
---
पूरे मोहल्ले में कराई फॉगिंग, छिड़काव
कोरोना पॉजीटिव मरीज मिलने के बाद स्वास्थ्य विभाग और पालिका में हड़कंप मचा हुआ है। पूरे मोहल्ले में नगर पालिका परिषद कैराना प्रशासन की ओर से फॉगिंग कराई गई। विशेष रूप से उक्त युवक के घर की दीवारों पर भी  ब्लीचिंग पाउडर के घोल का छिड़काव कराया गया। यहां पर स्वास्थ्य विभाग और नगर पालिका की विशेष टीम को फोकिंग आदि कार्य के लिए लगाया गया है। इससे मोहल्लेवासियों में भी दहशत का माहौल बना हुआ है।
---
घरों में दुबके लोग, कोई छतों से झांकता दिखा
अधिकारियों की गाड़ियों के मोहल्ले में अचानक सायरन गूंजने के बाद मोहल्ले में सन्नाटा पसर गया। जैसे ही स्वास्थ्य विभाग की टीम युवक के घर पर पहुंची, तो लोग अपने घरों में दुबक गए। कुछ लोग अपनी छतों पर युवक व टीम को देखने के लिए चढ़ गए, जबकि कुछ इधर-उधर से झांकते रहे। इनमें बच्चे भी शामिल रहे। पुलिस द्वारा लोगों को घरों से बाहर नहीं निकलने दिया गया।
---
सीएमओ की कम नहीं लापरवाही
युवक के कोरोना पॉजीटिव की आधिकारिक तौर पर पुष्टि की जा चुकी है। लेकिन, इसमें सीएमओ की लापरवाही भी कम नहीं हैं। 15 तारीख को युवक कैराना अपने घर पर पहुंचा था। इसके पांच दिन बाद उसकी जांच कराई गई, तो फिर से रिपोर्ट आने तक उसे घर भेज दिया गया। लोगों में चर्चा है कि युवक अधिकतर अपने घर और मोहल्ले में ही रहा। जाहिर है कि इस दौरान वह अपने परिवार के अलावा मेल-जोल के लोगों से भी मिला होगा। इससे स्वास्थ्य विभाग की कार्यशैली सवालों से घिरती हुई नजर आ रही है।
---
भड़के सीएमओ, नहीं उतरे गाड़ी से नीचे
सामुदायिक स्वास्थ्य केंद्र में पहुंचे सीएमओ भड़क उठे। आनन-फानन में टीम को मौके पर भेजा गया। बताया जा रहा है कि सीएमओ मौके पर टीम के साथ तो पहुंच गए, लेकिन गाड़ी से नीचे तक नहीं उतरे। गाड़ी भी युवक के मकान से काफी दूरी पर खड़ी हुई थी। इस दौरान लोग सीएमओ की कार्यशैली को लेकर भी चर्चा करते नजर आ रहे थे।
---
डीएम-एसपी ने भी किया भ्रमण
कोरोना के पॉजीटिव मरीज मिलने के बाद कैराना को लॉकडाउन किया गया है। इसी के चलते डीएम जसजीत कौर और एसपी विनीत जायसवाल भी कैराना में भ्रमण पर पहुंचे। इस दौरान उन्होंने अधीनस्थ अधिकारियों से क्षेत्र के बारे में जानकारी हासिल की। उन्होंने अलर्ट रहने के भी निर्देश दिए।
---
इन्होंने कहा-
एक केस पॉजीटिव पाया गया है। पॉजीटिव व्यक्ति और उसके परिवार को सीएचसी शामली पर लाया गया है। फिलहाल सिर्फ युवक में कोरोना वायरस की पुष्टि हुई है, जबकि उसके परिवार के लोगों में लक्षण नहीं दिख रहे हैं, लेकिन एहतियात के तौर पर सभी को क्वारंटाइन किया जा रहा है।
- जसजीत कौर, डीएम