कमलेश तिवारी हत्याकांड: हिंदू संगठनों में उबाल, राष्ट्रीय बजरंग दल ने की ये मांग
October 19, 2019 • MOHD. IQBAL HASAN

शामली: लखनऊ में हुई हिंदू समाज पार्टी के राष्ट्रीय अध्यक्ष कमलेश तिवारी की हत्या से हिंदू संगठनों में रोष देखने को मिल रहा है। हत्याकांड के विरोध में जिले के कैराना में राष्ट्रीय बजरंग दल ने कड़ा विरोध जताया है। संगठन कार्यकर्ताओं ने महामहिम राष्ट्रपति के नाम चार सूत्रीय ज्ञापन पत्र सौंपा है।
शनिवार को राष्ट्रीय बजरंग दल के जिलाध्यक्ष रोहित बजरंगी के नेतृत्व में दर्जनों कार्यकर्ता कैराना तहसील मुख्यालय पर पहुंचे। कार्यकर्ताओं ने एक दिन पहले लखनऊ में हुई हिंदू समाज पार्टी के राष्ट्रीय अध्यक्ष कमलेश तिवारी की हत्या पर कड़ा विरोध जताया। उन्होंने एसडीएम की गैरमौजूदगी में उनके स्टेनो को दिए गए ज्ञापन पत्र में कहा कि उत्तर प्रदेश में कानून व्यवस्था ध्वस्त होती दिख रही है। कभी मुजफ्फरनगर तो कभी मुरादाबाद में घटनाएं सामने आ चुकी है। लखनऊ में कमलेश तिवारी की हत्या दर्शाती है कि हिंदू विरोधी ताकतों के उत्तर प्रदेश में हौंसले बुलंद होने लगे हैं, जिन्हें रोकने के लिए सरकार कोई कदम नहीं उठा रही है। हिंदू समाज आज अपने आप को असुरक्षित महसूस कर रहा है। कहा कि ऐसी घटनाओं की राष्ट्रीय बजरंग दल कड़ी निंदा करता है। राष्ट्रीय ​बजरंग दल ने मांग की है कि कमलेश तिवारी के हत्यारों को जल्द गिरफ्तार करके फांसी दी जाए, हिंदुत्व के किस नेता के पास किस प्रकार की सुरक्षा रहनी चाहिए, यह सुनिश्चित कर सुरक्षा दी जाए, कमलेश तिवारी की हत्या के लिए इनाम रखने वाले लोगों को गिरफ्तार कर उन्हें हत्या के बराबर सजा दी जाए और कमलेश तिवारी के परिवार को 50 लाख रूपये की आर्थिक सहायता तथा परिवार के सदस्य को सरकारी नौकरी देने की मांग की गई है। ज्ञापन देने वालों में दीपक कुमार, अंकुर भारद्वाज, राजेश कुमार, अमर भारद्वाज, सुमित बजरंगी, विक्रमपाल, डा. घनश्याम, गुरदास बजरंगी, रोगिंद्र चौहान आदि मौजूद रहे।