कोरोना वायरस: स्वास्थ्य विभाग ने अधिवक्ताओं व न्यायिक कर्मियों को दिया प्रशिक्षण
March 18, 2020 • MOHD. IQBAL HASAN
 
- बार भवन में जनपद न्यायाधीश शामली भी रहे मौजूद
 
कैराना। कोरोना वायरस के प्रभाव को देखते हुए स्वास्थ्य विभाग अलर्ट है। स्वास्थ्य विभाग की टीम ने बार भवन में अधिवक्ताओं को कोरोना से बचाव का प्रशिक्षण दिया। इस दौरान जिला जज भी मौजूद रहे।
   बुधवार को सीएमओ शामली डा. संजय भटनागर के नेतृत्व में स्वास्थ्य विभाग की विशेष टीम बार भवन में पहुंची। यहां कोरोना वायरस को लेकर प्रशिक्षण कार्यक्रम का आयोजन किया गया। कार्यक्रम में ​जनपद न्यायाधीश शिवमणि शुक्ल भी मौजूद रहे। इस अवसर पर स्वास्थ्य विभाग द्वारा अधिवक्ताओं व न्याय कर्मियों को कोरोना से बचाव के लिए प्रशिक्षण दिया गया। बताया कि जागरूकता ही कोरोना से बचाव है। छींक आने पर और खांसते समय मुंह पर कपड़ा ढक लेना चाहिए। उन्होंने बताया कि एक स्थान पर ज्यादा लोग भी इकट्ठे नहीं रहने चाहिए। इस दौरान बार एसोसिएशन कैराना के अध्यक्ष इंतजार अहमद, महासचिव संजय सिंह, राजवीर सिंह, मोहम्मद आसिफ सिद्दीकी, ठाकुर जयप्रकाश, विकास पवार, मोहम्मद, जयपाल सिंह कश्यप, गोविंद सिंह,चौधरी वसीम अहमद, नदीम अहमद अंसारी, नीरज चौहान, नसीम अहमद, शगुन मित्तल, विनय शर्मा, कुलदीप कुमार, पारस कुमार व सत्यवीर आदि अधिवक्तागण मौजूद रहे।
---
कोर्ट परिसर में कराई फॉगिंग
जनपद न्यायाधीश शिवमणि शुक्ल के निर्देश पर नगरपालिका के कर्मचारी कोर्ट परिसर में पहुंचे। जहां कर्मचारियों द्वारा कोरोना वायरस के प्रभाव को देखते हुए फॉगिंग कराई गई। इस दौरान कचहरी में आए वादकारियों को कोरोना के प्रति जागरूक भी किया गया।
---
ग्राम प्रधानों व सचिवों को भी प्रशिक्षण
खंड विकास कार्यालय पर भी बुधवार को स्वास्थ्य विभाग की टीम पहुंची। जहां टीम द्वारा क्षेत्र से आए ग्राम प्रधानों, क्षेत्र पंचायत सदस्यों व सचिवों को कोरोना से बचाव के लिए प्रशिक्षण दिया। टीम ने ग्राम प्रधानों से लोगों को जागरूक करने का भी आह्वान किया। इस दौरान बीडीओ गोपाल कृष्ण चौधरी, एडीओ वसीम अहमद आदि मौजूद रहे।
---
जागरूकता को लगाए होर्डिंग्स
कोरोना वायरस को लेकर स्वास्थ्य विभाग ही नहीं, बल्कि अन्य विभागों द्वारा भी सतर्कता बरती जा रही है। सामुदायिक स्वास्थ्य केंद्र पर स्वास्थ्य विभाग तथा नगर में नगर पालिका की ओर से सार्वजनिक स्थानों पर होर्डिंग्स लगवाए गए हैं, जिनके माध्यम से लोगों को कोरोना से न घबराने तथा सावधानी बरतने की अपील की जा रही है।