कृष्णा नदी के जीर्णोद्धार व सौंदर्यकरण का कैबिनेट मंत्री ने किया शुभारंभ
February 23, 2020 • MOHD. IQBAL HASAN
 
 
शामलीl विकासखंड थानाभवन के अंतर्गत आने वाले ग्राम चंदेना माल में कृष्णी नदी निर्मल हो अविरल हो इस उद्देश्य से आज कृष्णी नदी के जीर्णोद्धार व सौंदर्यीकरण कार्यक्रम के शुभारंभ अवसर पर मुख्य अतिथि के रूप में पहुंचे मंत्री गन्ना विकास एवं चीनी मिल प्रभारी उत्तर प्रदेश सुरेश राणा ने कृष्णी नदी के किनारे बैठकर हवन पूजन कर व नारियल तोड़कर शुभारंभ किया।
     रविवार को कृष्णी नदी जीर्णोद्धार सौंदर्यीकरण कार्यक्रम के शुभारंभ के अवसर पर उपस्थित जनसमूह को संबोधित करते हुए सर्वप्रथम गन्ना मंत्री सुरेश राणा ने सभी को गंगा मैया व कृष्णी मैया का संकल्प दिलाते हुए कहा कि क्षेत्र में लोगों द्वारा कृष्णा नदी के लिए बड़े-बड़े कार्य किए जा रहे हैं उसके लिए व बधाई के पात्र है।गन्ना मंत्री ने कहा कि यह नदी हमारे लिए जीवनदायिनी नदी है इसलिए इसको हमेशा साफ रखना है उन्होंने कहा कि प्रकृति के स्रोत जो धीरे-धीरे खत्म हो गए थे उनका पुनः जीर्णोद्धार किया जाएगा। 
        मंत्री ने जनसमूह से यह भी कहा कि घरों में समरसेबल से, टंकी से पानी का अनावश्यक दोहन ना किया जाए आवश्यकतानुसार ही पानी का उपयोग करें। जिससे कि हम भूगर्भ जल को बचा सके और अपनी आने वाली पीढ़ी का जीवन सुखमय कर सके। गन्ना मंत्री ने कहा कि हम कुछ भी धन कमाते हैं उसमें कुछ ना कुछ बचाने की कोशिश करते हैं परंतु सबसे बड़ा धन जो है वह पानी है पानी है तो जीवन है। इसलिए इस अभियान में बच्चे बच्चे का सहयोग हो।गन्ना मंत्री ने कहा कि ऐसी व्यवस्था की जाएगी कि जितने भी  हैंडपंप गांव के अंदर लगे हैं उनके पास भी जल संरक्षण व्यवस्था की जाएगी। 
      गन्ना मंत्री ने कहा कि 52 किलोमीटर की कृष्णी में सवा मीटर नीचे तक सिल्ट सफाई का कार्य जल्दी से किया जाएगा और कृष्णा नदी के बराबर मैं पटरी का निर्माण,खेलने के मैदान बनेंगे और भारी संख्या में वृक्षारोपण भी किया जाएगा।यह सब काम पूरे होने के पश्चात कृष्णा नदी के पास के जितने भी गांव हैं उनमें पदयात्रा होगी जिसमें गांव के लोगों की भी हिस्सेदारी होगी। उन्होंने उपस्थित सभी से कहा कि गांव के जो गंदे नाले हैं उनके पानी को भी रोकना है क्योंकि कृष्णा नदी हमारी मां है और मां की गोद में बैठकर हम गंदगी नहीं करगे न हीं करने देंगे हमेशा इसकी सुरक्षा करनी है।गन्ना मंत्री ने कहा कि यह अभियान अकेले सरकार का नहीं है यह अभियान जनभागीदारी से सफल होगा इसलिए इस अभियान में अधिक से अधिक योगदान दें। 
      गन्ना मंत्री ने संबंधित अधिकारियों को निर्देशित करते हुए कहा कि गांववार कार्ययोजना बनाते हुए कृष्णा नदी के सभी गांवों में जन चौपाल के साथ-साथ वहां पर कैंप के माध्यम से जनमानस को समस्त जनकल्याणकारी योजनाओं के जानकारी दी जाए। इस दौरान गन्ना मंत्री ने यह भी कहा कि केंद्र सरकार व प्रदेश सरकार विकास के साथ-साथ जन जागरण का काम कर रही है।
       कार्यक्रम में मुख्य विकास अधिकारी श्री शंभू नाथ के बारे में कार्यक्रम की रूपरेखा पर प्रकाश डालते हुए बताया कि मंत्री जी के दिशा निर्देशन में कृष्णा नदी का सौंदर्यकरण जीर्णोद्धार कार्य प्रारंभ कर दिया गया है। मुख्य विकास अधिकारी ने कहा कि आज से 45 वर्ष पहले इस नदी का पानी पीने के लिए इस्तेमाल किया जाता था और जब भी बाढ़ आती थी तो लोगों का जमावड़ा इकट्ठा होकर उस नजारे को देखता था।इसलिए नहीं फिर भी उस नजारे को दोबारा से देख सके उस दिशा में कार्य किया जाएगा। 
      मुख्य विकास अधिकारी ने बताया थानाभवन शामली और कांधला 52 किलोमीटर कृष्णा नदी में जिसमें 41 ग्राम पंचायतें 5 स्थानीय निकाय पड़ती है।कृष्णा नदी के सौंदर्यकरण जीर्णोद्धार के लिए 10 करोड़ 60 लाख की धनराशि व्यय की जाएगी। जिसमें नदी के किनारे तटो का निर्माण चौड़ीकरण आदि का कार्य किया जाएगा। उनके द्वारा यह भी बताया कि हमारे जनपद को 100 क्यूसेक पानी मिलता है।और अब तक 102 हेक्टेयर जमीन को अतिक्रमण मुक्त करार दिया गया है।और जो परंपरागत जल के स्रोत थे उनको जीर्णोद्धार करने का काम किया जा रहा है। इसके अतिरिक्त उन्होंने यह भी कहा कि जो लोग अतिक्रमण किए हैं वह अपनी स्वेच्छा से अतिक्रमण हटा ले क्योंकि यह कार्य 31 मई तक पूर्ण किया जाएगा।
       इस दौरान मुख्य विकास अधिकारी ने यह भी बताया कि कार्य पूर्ण होने के पश्चात 52 किलोमीटर की कृष्णा नदी के पास के जितने भी गांव हैं उनसे होते हुए पदयात्रा व कलश यात्रा निकाली जाएगी।मुख्य विकास अधिकारी ने गन्ना मंत्री को आश्वस्त करते हुए कहा कि आप के दिशा निर्देश में पूरी ऊर्जा के साथ कार्य किया जाएगा।
        इस अवसर पर मुख्य विकास अधिकारी शंभू नाथ तिवारी, प्रभागीय वन अधिकारी संजय कुमार, जिला पंचायत राज अधिकारी आलोक शर्मा, खंड विकास अधिकारी डॉ पंकज, ग्राम प्रधान मामचंद शर्मा सहित ब्लाक प्रमुख व क्षेत्र के अलग-अलग गांव से आए ग्राम प्रधानगण व जनमानस उपस्थित रहा।