प्रदेश मे योगी आदित्यनाथ सरकार का बड़ा फैसलाः लखनऊ व शामली सहित 15 जिले आज रात 12:00 बजे से 13 अप्रैल तक शत-प्रतिशत किए जाएंगे सील
April 8, 2020 • MOHD. IQBAL HASAN
 
कैराना(शामली)/लखनऊ । कोरोना वायरस के संक्रमण को फैसने से रोकने के लिए  प्रदेश की योगी आदित्यनाथ सरकार ने बड़ा कदम उठाया है। सरकार ने अधिक संक्रमितों जिलों को बुधवार रात 12 बजे से 30 अप्रैल तक सील करने का फैसला किया है। इस दौरान सभी जगह पर कर्फ़्यू जैसी हालत रहेगी। कोई भी बाहर नहीं निकल सकेगा। 30 अप्रैल तक कुल पंद्रह जिलों में कर्फ़्यू वाले अंदाज में लॉक डाउन होगा।
       आज से 13 अप्रैल तक उत्तर प्रदेश के 15 जिले सील होंगे। कोरोना के फैलने की सबसे ज्यादा मामले इन्हीं जिलों से आ रहे थे। उत्तर प्रदेश के मुख्य सचिव राजेन्द्र कुमार त्रिपाठी ने कहा कि यूपी में तबलीगी जमात में बहुत सारे लोगों में कोरोना के पॉजीटिव रिपोर्ट आयी है। उनके नाते संक्रमण बहुत तेजी से बढ़ा है।340 लोगों की रिपोर्ट पॉजीटिव आयी है। जिस तरह से यूपी में यह मामला बढ़ा है यह तबलीगी जमात बे बहुत गैरजिम्मेदाराना कार्य किया है। उन्होंने कहा कि जिस भी व्यक्ति को इसके लक्षण हों वह तुरंत अपने मुख्य चिकित्सा अधिकारी को सूचित करें  इसमें कोई शर्म की बात नहीं है। 
      प्रदेश के आगरा, कानपुर, वाराणसी, मेरठ, सहारनपुर, लखनऊ, गाजियाबाद, गौतमबुद्ध नगर, बुलंदशहर, सीतापुर, फिरोजाबाद, शामली, बरेली, बस्ती, महराजगंज, इन पन्द्रहों जिलों में घरों को शतप्रतिशत सील किया जायेगे।
       ऐसे में सामानों की घर-घर सप्लाई होगी। इन जिलों में जारी हुए पासों की समीक्षा होगी। बहुत सारे पासों को निरस्त किया जाएगा।अब सिर्फ स्वस्थ्य, पुलिस व अन्य बहुत अति आवश्यक कार्यों में लगे लोगों का ही पास नया बनेगा।उन्होंने कहा कि हमने प्रदेश के सभी जिलाधिकारियों को निर्देश दिया है कि कम से कम पास जारी करें। अब इन जिलों के हर चौराहे, नुक्कड़ सील कर पुलिस तैनात किये जायेंगे। जरूरत की सामग्री ऑन लाइन मिलेगा, आवश्यक सामग्री की घर-घर आपूर्ति होगी।