संपूर्ण समाधान दिवस में प्राप्त 121 शिकायतों में मात्र आधा दर्जन शिकायतों का मौके पर हुआ निस्तारण
March 3, 2020 • MOHD. IQBAL HASAN
 

 
 
कैराना।  जिलाधिकारी शामली जसजीत कौर की अध्यक्षता में सम्पूर्ण समाधान दिवस  तहसील कैराना के सभागार में आयोजित हुआ।जिसमे जिलाधिकारी जसजीत कौर ने कहा कि जन समस्याओं का निस्तारण प्राथमिकता के आधार पर किया जाए और शिकायतों के निस्तारण में किसी भी स्तर पर लापरवाही न बरती जाए। उन्होनें फरियादियों की फरियाद एक-एक कर सुनी और उनके निस्तारण हेतु सम्बन्धित अधिकारियों को निर्देशित किया।
      इसके साथ ही उन्होनें कहा कि जनसमस्याओं का निस्तारण शासन की प्राथमिकताओं में है, इसलिए सभी अधिकारी रूचि लेकर गुणवत्तायुक्त ढंग से निस्तारण सुनिश्चित करें। इस कार्य में किसी भी स्तर पर लापरवाही क्षम्य नहीं होगी। उन्होनें कहा कि शिकायतों के निस्तारण में पारदर्शिता, गुणवत्ता एवं समयबद्धता का विशेष ध्यान रखा जाए। 
       संपूर्ण समाधान दिवस के अवसर पर 121 शिकायत प्राप्त हुई जिसमें 6 शिकायतों का मौके पर ही निस्तारण किया गया उन्होंने जिला स्तरीय अधिकारियों को निर्देश दिया कि जन कल्याणकारी योजनाओं का हर पात्र लाभार्थियों को लाभ दिया जाए। उन्होंने जिला स्तरीय अधिकारियों को कहा कि आप को हर संभव सहायता दी जाएगी आप द्वारा जन कल्याणकारी योजनाओं को हर पात्र लाभार्थी तक पहुंचाएं।
       जिलाधिकारी ने जिला स्तरीय अधिकारियों को कड़े निर्देश दिए कि जनपद की रैकिंग टॉप टेन में रहनी चाहिए। उन्होंने यह भी कड़े निर्देश दिए कि किसी भी विभाग के कार्य प्रणाली खराब होने के कारण जनपद की रैंकिंग खराब होती है तो संबंधित के विरुद्ध कठोर कार्यवाही की जाएगी। उन्होंने अधिकारियों को निर्देश दिए कि अपने-अपने विभागों की जन कल्याणकारी योजनाओं को हर लाभार्थी तक योजना का लाभ दिया जाए।       
      उन्होंने आइजीआरएस के निस्तारण के संबंध में निर्देश दिए कि जिला स्तरीय अधिकारी शिकायत प्राप्त होने के पश्चात शिकायतकर्ता से फोन कर या मौक़े पर जाकर, शिकायत का निस्तारण करें। उन्होंने कहा कि शिकायत का निस्तारण न होने पर संबंधित अधिकारी के विरुद्ध कठोर कार्यवाही अमल में लाई जाएगी। उन्होंने यह भी कहा कि शिकायतकर्ता की शिकायतों को रजिस्टर में अंकित कर उनके निस्तारण करने के पश्चात शिकायतकर्ता के हस्ताक्षर भी कराना सुनिश्चित करें ताकि शिकायतकर्ता संतुष्ट हो सके।
         जिलाधिकारी ने कहा कि शिकायतों के निस्तारण में किसी भी प्रकार की शिथिलता बरतने पर सम्बंधित अधिकारी के विरूद्ध कार्यवाही की जायेगी। अधिकारी सम्पूर्ण समाधान दिवस में प्राप्त शिकायती प्रार्थना पत्रों का स्वयं परीक्षण करें तथा यह भी प्रयास किया जाए कि शिकायतकर्ता एक ही बार में संतुष्ट हो जाए, उसे बार-बार भटकना न पड़े।
        इस अवसर पर पुलिस अधीक्षक विनीत जायसवाल, मुख्य विकास अधिकारी शंभूनाथ तिवारी, उप जिला अधिकारी कैराना मणि अरोड़ा, मुख्य चिकित्सा अधिकारी संजय भटनागर, डीएफओ संजय कुमार, क्षेत्राधिकारी कैराना प्रदीप सिंह, परियोजना निदेशक ज्ञानेश्वर तिवारी, उप निदेशक कृषि शिव कुमार केसरी व कैराना अधिशासी अधिकारी हेमराज सिंह सहित समस्त जिला स्तरीय अधिकारी उपस्थित रहे।