शामली में भ्रमण पर पहुंचे नोडल अधिकारी, लगाई चौपाल
October 23, 2019 • MOHD. IQBAL HASAN
शामली: शासन द्वारा नियुक्त नोडल अधिकारी सहारनपुर मंडल सहारनपुर संजय कुमार बुधवार को शामली में एक दिवसीय भ्रमण पर पहुंचे। उन्होंने सर्वप्रथम किसान कल्याण केंद्र थानाभवन का निरीक्षण किया। निरीक्षण के दौरान द्वारा कृषि उप निदेशक, प्रोजेक्ट मैनेजर को आवश्यक व्यवस्था पूर्ण करने के निर्देश दिए। इस दौरान मंडलायुक्त द्वारा पराली खेत में न जलाने की अपील की गई। निरीक्षण के अगले क्रम में आयुक्त द्वारा निर्माणाधीन गेस्ट हाउस का निरीक्षण किया गया जहां पर उनके द्वारा गेस्ट हाउस में लग रही टाइल्स को चेक किया और बिल्डिंग के अंदर बने कमरों को चेक करते हुए आवश्यक व्यवस्था पूर्ण करने के निर्देश दिए।
निरीक्षण के अगले क्रम में आयुक्त सहारनपुर मंडल द्वारा सामुदायिक स्वास्थ्य केंद्र थानाभवन का निरीक्षण किया गया निरीक्षण के दौरान आयुक्त द्वारा मुख्य चिकित्सा अधिकारी को यह निर्देश दिए कि चिकित्सा परिसर में पार्किंग वाले स्थान पर इंटरलॉकिंग की जाए व वहां पर बड़ी डस्टबिन रखी जाए आयुक्त द्वारा सामुदायिक स्वास्थ्य केंद्र में टूटे प्लास्टर व सामुदायिक केंद्र के प्रथम तल की पत्थर की घिसाई एवं वाइटवॉश कराने के के साथ-साथ सामुदायिक परिसर में नाली में भरे पानी की सफाई करने के निर्देश भी मुख्य चिकित्सा अधिकारी को दिए। साथ ही आयुक्त द्वारा मुख्य मुख्य चिकित्सा अधिकारी को यह भी निर्देश दिए गए कि सामुदायिक केंद्र में एक ही तरह के पंखे लाइट की व्यवस्था और बेहतर की जाए।आयुक्त द्वारा पंजीकरण खिड़की,एक्सरे रूम,औषधि कक्ष मैं जाकर प्रतिदिन दी जा रही औषधियों के वितरण की स्थिति एवं दवाइयों की उपलब्धता के बारे में भी आवश्यक जानकारी प्राप्त की गई। आयुक्त द्वारा स्वयं मरीजों से बात कर उनका हाल जाना गया। इसके उपरांत आयुक्त द्वारा महिला वार्ड का निरीक्षण किया गया जिसमें उन्होंने बच्चे के वजन के बारे में संबंधित से पूछा गया और संबंधित को निर्देश दिए कि महिला वार्ड के गेटों पर पेंट व वार्ड को वाइट वास किया जाए।इसके उपरांत आयुक्त द्वारा चिकित्सक कक्ष का निरीक्षण करते हुए चिकित्सक को यह निर्देश दिए कक्ष के अंदर योजनाओं से संबंधित बैनर लगाए ताकि उन्हें योजना के बारे में जानकारी प्राप्त हो सके। इसके अतिरिक्त आयुक्त द्वारा मेडिसिन कक्ष में जाकर संबंधित से आवश्यक जानकारी प्राप्त करते हुए मेडिसिन कक्ष के पास सीसीटीवी कैमरा लगाने के भी निर्देश दिए। उनके द्वारा मुख्य चिकित्सा अधिकारी को निर्देशित करते हुए कहा गया कि केंद्र सरकार व प्रदेश सरकार की योजनाओं का लाभ शत प्रतिशत रूप से दिया जाए।
निरीक्षण के अगले क्रम में आयुक्त सहारनपुर मंडल द्वारा थानाभवन देहात में स्थित अस्थाई गौशाला का निरीक्षण किया। निरीक्षण के दौरान आयुक्त द्वारा आश्रय स्थल में गोवंश की संख्या पूछी गई 88 गोवंश आश्रय स्थल में मिले सभी गोवंश हो कि जियो टैगिंग की गई है। आयुक्त द्वारा संबंधित से गोवंश ओं के लिए पानी हरे चारे आदि की व्यवस्था के बारे में भी जानकारी प्राप्त की गई जिसमें संबंधित द्वारा बताया गया कि पानी में हरे चारे की व्यवस्था पर्याप्त रूप से की गई है। आयुक्त द्वारा आश्रय स्थल में प्रतिदिन साफ सफाई करने के भी निर्देश दिए। साथ ही उनके द्वारा यह भी निर्देश दिए गए कि आश्रय स्थल पर डॉक्टर वह इंचार्ज का मोबाइल नंबर सहित वॉल पेंटिंग किया जाए। उसके अतिरिक्त आयुक्त द्वारा वहां पर वायरिंग के लिए खंबे लगवाने के भी निर्देश दिए गए।
निरीक्षण के अगले क्रम में आयुक्त सहारनपुर मंडल द्वारा विकासखंड थानाभवन के अंतर्गत आने वाली ग्राम पंचायत   हरड़ फतेहपुर मैं प्राथमिक विद्यालय नंबर 1 में चौपाल लगाकर ग्राम वासियों की समस्याओं को सुना उनके द्वारा सर्वप्रथम प्राथमिक विद्यालय के परिसर में समूह द्वारा बनाए गए उत्पादों का निरीक्षण करते यह समूह द्वारा बनाए गए उत्पादों की सराहना की गई, वही राष्ट्रीय पोषण मिशन द्वारा आयोजित अन्नप्राशन सुपोषण उत्सव लाडली दिवस गोद भराई बचपन दिवस का कार्यक्रम में आयुक्त द्वारा छोटे बच्चे को पोस्टिक आहार खिलाया गया।
इसके उपरांत आयुक्त द्वारा गांव के अंदर किए गए निर्माण कार्यों की बिंदुवार समीक्षा की गई। आयोजित चौपाल में आयुक्त द्वारा ग्राम वासियों से एक सुर में निर्माण कार्यों की समीक्षा करते हुए गांव वालों से पूछा गया कि गांव के अंदर बिजली की आपूर्ति, हैंडपंपों की समस्या के संबंध में पूछा गया जिसमें ग्राम वासियों द्वारा एक दो  हैंडपंप खराब होने की बात कही जिस पर आयुक्त द्वारा ग्राम प्रधान वह ग्राम सचिव को निर्देशित करते हुए कहा कि खराब हैंडपंपों को जल्द से जल्द रिबोर कराया जाए। उनके द्वारा बेसिक शिक्षा अधिकारी से विद्यालयों में बच्चों को ड्रेस पुस्तक बैग जूते मोजे आदि वितरित होने की जानकारी भी प्राप्त की गई जिसमें बेसिक शिक्षा अधिकारी द्वारा बताया गया कि मैं जूते मोजे आदि वितरित कर दिए गए हैं और इसके अतिरिक्त स्वेटर की प्रक्रिया पूर्ण कर ली गई है। उनके द्वारा गांव के अंदर बने स्वच्छ भारत मिशन के तहत बने शौचालयों के बारे में जानकारी प्राप्त की गई जिसमें संबंधित द्वारा बताया गया कि सभी के शौचालय बना दिए गए हैं और जो नए पात्र हैं उनको चिन्हित कर लिया गया है धनराशि प्राप्त होने पर उनके भी शौचालय बना दिया जाएगा। उनके द्वारा वृद्धावस्था पेंशन दिव्यांग पेंशन एवं निराश्रित पेंशन के संबंध में जानकारी प्राप्त की गई जिसमें संबंधित अधिकारी द्वारा बताया गया कि वृद्धावस्था पेंशन निराश्रित पेंशन दिव्यांग पेंशन के तहत पात्र को लाभ दिलाया जा रहा है और जो नए चिन्हित हुए हैं, उनका सत्यापन करते हुए उन्हें भी जल्दी ही पेंशन से लाभान्वित किया जाएगा। कन्या सुमंगला योजना के संबंध में आयुक्त द्वारा संबंधित से जानकारी प्राप्त करते हुए संबंधित अधिकारी से उपस्थित ग्राम वासियों को विस्तार से योजना के संबंध में जानकारी दी गई। इस दौरान आयुक्त द्वारा उपस्थित ग्राम वासियों से कहा कि कन्या सुमंगला योजना सरकार की एक बहुत ही महत्वाकांक्षी योजना योजना है इसका अधिक से अधिक लाभ लें उन्होंने कहा कि कोई बेटी बोझ न समझे क्योंकि आज के दौर में बेटी हर क्षेत्र में लड़कों से आगे बढ़ रही है। उन्होंने यह भी अवगत करा कि इस योजना में शामली जिला नंबर एक पर है इसलिए उन्होंने उपस्थित सभी से आह्वान किया कि माता बहने इसका अधिक से अधिक लाभ ले। उन्होंने उपस्थित लोगों से यह कहां की फसल काटने के बाद पराली नहीं जलाने चाहिए क्योंकि उसको जलाने से पर्यावरण प्रदूषित होता है जिसका असर हमारे शरीर पर पड़ता है। इसलिए आने वाली पीढ़ी को कोई नुकसान ना हो यह सोचते हुए खेत में पराली बिल्कुल न जलाएं उन्होंने यह भी बताया कि पिछले साल के फीसदी इस साल 50% कम है। पराली ना जले इसके लिए हम सबको अपनी महत्वपूर्ण जिम्मेदारी उठानी है। आयुक्त द्वारा ग्राम वासियों की चकरोड संबंधी,तालाब पर अतिक्रमण संबंधी शिकायतों का संज्ञान लेते हुए संबंधित अधिकारियों को निर्देश दिए कि 1 सप्ताह में समस्या का निस्तारण कर दिया जाए साथ ही उन्होंने डीपीआरओ निर्देश दिए कि गांव के अंदर प्रतिदिन सफाई कराई जाए। आयुक्त द्वारा संबंधित अधिकारियों को यह भी निर्देश दिए गए कि केंद्र सरकार का प्रदेश सरकार की जितनी भी नीतियां है उन सब का शत प्रतिशत लाभ पात्र को मिले इसमें किसी भी प्रकार की लापरवाही बर्दाश्त नहीं की जाएगी। इस अवसर पर जिलाधिकारी अखिलेश सिंह, मुख्य विकास अधिकारी शंभूनाथ तिवारी, मुख्य चिकित्सा अधिकारी संजय भटनागर, परियोजना निदेशक ज्ञानेश्वर तिवारी, जिला विकास अधिकारी प्रदीप कुमार, कृषि उपनिदेशक शिव कुमार केसरी, पशु चिकित्सा अधिकारी राजेश सैनी, जिला कृषि अधिकारी डॉ हरिशंकर आदि मौजूद रहे।