शामली में वित्तीय वर्ष 2020-21 में रू0 2,12,32,550-00 मूल्य के ई-स्टाम्प किए जा चुके हैं जारी
October 13, 2020 • MOHD. IQBAL HASAN

 

शामली। सहायक महानिरीक्षक निबंधन, शामली के कार्यालय कक्ष में सहायक महानिरीक्षक निबंधन श्री मेवालाल पटेल, शामली की अध्यक्षता में प्रभारी उप निबंधक, शामली एवं स्टाॅक होल्डिंग कारपोरेशन आॅफ इण्डिया लि0 के प्रतिनिधि श्री विकास त्यागी व श्री लोकेश यादव तथा स्टाम्प वेण्डर तहसील शामली एवं कैराना आदि की बैठक का आयोजन किया गया। बैठक को सम्बोधित करते हुए सहायक महानिरीक्षक निबंधन ने स्टाम्प विक्रेताओं को बधाई देते हुए यह अवगत कराया कि स्टाम्प विक्रेताओं के माध्यम से ई-स्टाम्प की बिक्री की जो शुरूआत हुई है। उसमें हर माह नये स्टाम्प विक्रेताओं के जुड़ने से उत्तरोत्र वृद्धि हो रही है।
जनपद शामली में वित्तीय वर्ष 2020-21 में रू0 2,12,32,550-00 मूल्य के ई-स्टाम्प जारी किये जा चुके हैं। जनपद शामली से कुल 20 स्टाम्प विक्रेताओं ने ई-स्टाम्प प्राधिकृत संग्रह केन्द्र के लिए आवेदन किया था। जिसमें जनपद शामली में कुल 11 स्टाम्प वेण्डरों को आई.डी. पासवर्ड जारी किया जा चुका है जो अपनी सेवाएं देना शुरू कर दिये है। जिसमें नागरिकों को सरलता से ई-स्टाम्प मिल पा रहे हैं। सहायक महानिरीक्षक निबंधन ने सभा को सम्बोधित करते हुए कहा कि सरकार के इस कदम से कप्यूटर दक्ष युवक-युवतियों को रोजगार के अवसर मिलंेगे, ई-स्टाम्प विशेष कोड नम्बर व बार कोड के कारण फर्जीवाडा की समस्या के समाधान में काफी सरलता प्राप्त हुई है। क्योंकि ई-स्टाम्प की प्रमाणिकता को स्टाम्प होल्डिंग कारपोरेशन की वेबसाईट पर तथा ई-स्टाम्पिंग एप के द्वारा कभी भी कहीं भी जांचा जा सकता है। जबकि फिजिकल स्टाम्प में इतना आसान नहीं था। पहले बहुत सारे फिजिकल स्टाम्प पेपर की आवश्यकता होती थी, जिसे रजिस्ट्री के लेख पत्र पबहुत सारे हो जाते थे जो कि अब ई-स्टाम्पिंग के माध्यम से मात्र एक ई-स्टाम्प के द्वारा कार्य पूर्ण हो जाता है। ई-स्टापिंग स्टाम्प हाॅल्डिग के प्रतिनिधि द्वारा इसके पूर्व नये प्राधिकृत संग्रह केन्द्र के रूप में कार्य कर रहे स्टाम्प विक्रेताओं को ई-स्टाम्पिंग के बारे में टेªनिंग भी दी गयी है। जनपद शामली के स्टाम्प विक्रेताओं द्वारा बैंकों द्वारा ली जा रही कैश हैडलिंग चार्ज के बारे में तथा कम मूल्य के ई-स्टाम्पों में फेस वैल्यू से ज्यादा लागत मूल्य के बारे में अपनी परेशानी से अवगत कराया गया। जिसके सम्बन्ध में सहायक महानिरीक्षक निबंधन, शामली द्वारा स्टाम्प विक्रेताओं को निर्देश दिये गये है कि वे अपनी समस्याओं के सम्बन्ध में उच्चाधिकारियों को अवगत कराते हुए समास्याओं के समाधान करने का प्रयास किया जाये। स्टाॅक होल्डिंग कारपोरेशन आॅफ इण्डिया के अधिकारियों द्वारा (ACC) के लाईसेन्सधारियों को आवश्यकतानुसार प्रशिक्षित किया जा रहा है एवं ई-स्टाम्प जारी कराये जाने में अधिकारियों से समन्वय स्थापित कर पूर्ण सहयोग किया जा रहा है। जन सामान्य को चाहिए कि ई-स्टाम्प के प्रयोग का लाभ उठायें। अन्त में बैठक में प्रतिभाग करने वाली सभी सदस्यों द्वारा सहायक अध्यक्ष को धन्यवाद ज्ञापित करते हुए बैठक समाप्त की गयी।